महिलाओं के लिए जरूरी है अधो मुखा आसन

अधो मुखा सन महिलाओं के लिए एक जरूरी आसान है और महिलाओं के लिए पुल अप करना एक जरूरी आसान है इस आसन में शरीर के ऊपरी भाग में खिंचाव आता है हाथों और हाथों की कलाइयों और कंधों को यह आसन मजबूत बनाता है इसके साथ साथ पेट की जो मांस पेशियां होती हैं उनमें मांस पेशियों को या तंदुरुस्त रखता है और गर्दन को भी सही रखता है एक एक्सपर्ट के मुताबिक कपासन काफी लाभदायक होता है और महिलाओं के शरीर पर भी उतना ही प्रभाव डालता है जितना पुरुषों के शरीर पर इस आसन को करने से जैसे पुरुष मजबूत होते हैं उसी तरह महिलाएं भी मजबूत होती हैं क्योंकि पुरुषों और महिलाओं दोनों को इस आसन करने से शरीर के ऊपर की तरफ से मांसपेशियां होती है वह मजबूत हो जाती हैं पुरुषों और महिलाओं के लिए भिन्न-भिन्न शारीरिक क्षमता इस बात का कारक नहीं होनी चाहिए कि उन्हें कौन सा अभ्यास करना चाहिए और कौन सा अभ्यास नहीं करना चाहिए आमतौर पर औरतें सोचती हैं किया आसान हमें नहीं करना चाहिए शायद इस आसन से हमें परेशानी यही कारण है कि औरतें पुरुषों के पीछे कमजोर होती चली जा रही है और उनका वजन धीरे धीरे बढ़ता चला जा रहा है यदि वह इस आसन को करती हैं इससे उनका वजन नहीं घटता है और उनके शरीर को लाभदायक भी रहता है इस आसन को करने से महिलाओं को कोई परेशानी नहीं होती है सिर्फ और सिर्फ मांस पेशियों पर यह आसन प्रभाव डालता है योग को शामिल करना भी आपके शरीर के लिए सबसे अधिक जरूरी चीज है प्राणायाम वसा अधिक व्यायाम द्वारा जीवन को और भी बढ़ावा दिया जा सकता है अधो मुखा आसन करके अपने कंधों को शक्ति प्रदान किया जा सकता है और शरीर को ऊर्जावान बना सकते हैं आसन कलाई और कंधों पीठ की हड्डी के लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण है और हमें आपको बताना पड़ता है कि यह आसन पेट को में खिंचाव दिलाता है और पेट के अंदर जो भी परेशानियां होती हैं उन सब से छुटकारा दिलाता है भुजंगासन कंधों को खुलता है पेट को मजबूत करता है और पेट के आकार को सही आकार प्रदान करता है या पीठ के ऊपरी भाग को थोड़ा बनाता है और जिसके कारण अधिक भार उठाने में कोई परेशानी नहीं होती है इसी तरह मर्ची आसन होता है या आसन भी कलाइयों और कंधों को मजबूत बनाता है किसी भी नए व्यक्ति को या आसन करने में थोड़ी बहुत परेशानियां आती हैं क्योंकि उन्हें सही जानकारी नहीं मिलती है इसलिए हमने आपको बताने में खुशी महसूस हो रही है कि आप कोई व्यक्ति इस आसन को मेरे बताए हुए रास्ते से आसानी से कर सकते हैं शुरुआती दौर में 5 से 10 पूरा एक हफ्ते में कीजिए और बाद में 1 हफ्ते में इसके दो सेट कीजिए धीरे धीरे सेट को बढ़ाते जाइए और 20 कीजिए आप देखेंगे कम से कम समय में आसानी से कर लेंगे और या आसन करने से आपका शरीर स्वस्थ हो जाएगा कोई भी शरीर 1 दिन में सही नहीं हो पाता इसलिए हमें धीरे-धीरे अपनी स्टेमिना बढ़ाने पड़ती है वर्तमान समय में शरीर की बनावट को ध्यान रखते हुए हमें आसन धीरे धीरे शुरू करना होगा और एक समय के बाद या आसन में इसकी संख्या अधिक से अधिक हो जाएगी